जानिए NPS(NATIONAL PESION SCHEME) और OPS(OLD PENSION SCHEME) का पूरा मुद्दा |

दोनों पेंशन सिस्टम का अंतर जानने के लिए सबसे पहले जरुरी हे कि वर्तमान मे जारी नेशनल पेंशन स्कीम क्या है और उसमे क्या प्रावधान है?

नेशनल पेंशन स्कीम(NPS)अथवा न्यू पेंशन स्कीम-

राष्‍ट्रीय पेंशन प्रणाली (NPS) एक पेंशन सह निवेश योजना है जिसे भारत सरकार द्वारा भारत के नागरिकों को वृ‍द्धावस्‍था सुरक्षा प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है।
यह योजना आपकी सैलरी से निश्चित अमाउंट काट कर व अमाउंट जो सैलरी से कटा है उसका 140%(GOVT की तरफ से जमा ) दोनों मिलकर जो अमाउंट बनता है वो शेयर मार्किट मे निवेश किया जाता है शेयर मार्केट मे उन फण्ड मे निवेश किया जाता है जो तुलनात्मक कम जोखिम वाले होते है परन्तु जोखिम तो होता ही है| फाइनेंसियल एक्सपर्ट का कहना होता है कि लम्बे समय तक किया गया निवेश बेहद फायदेमंद होता है यानि 25 से 35-40 साल परन्तु कार्मिक की जल्दी मृत्यु होने की दशा मे बहुत कम अमाउंट ही बन पाता है और पेंशन भी न के बराबर मिल पाती है|
EXAMPAL- अगर आपका प्रोबेशन काल मे फिक्स पेमेंट 18500 रूपये है तो उसका 10% होता है 1850 रूपये
अब 1850 रूपये मे ऐड करो 18500 का 14% या फिर 1850 का 140% दोनों एक ही बात है जो होता है 2590 रूपये
यह 2590 रूपये सरकार की तरफ से जमा होते है| दोनों मिलकर अमाउंट 4440 रूपये होता है| यह 4440 रूपये का अमाउंट शेयर मार्किट मे कम रिस्क वाले पेंशन फण्ड मे निवेश होता है|

आपने न्यू पेंशन स्कीम के बारे मे बहुत कुछ जान लिए है| अब जानते है कि दोनों के बिच मे क्या अंतर है और क्यूँ ये बड़ा मुद्दा बन गया है-

NPS OPS
NPS शेयर बाजार पर आधारित रिस्की योजना है| OPS एक सुरक्षित पेंशन योजना है|
NPS रिटायरमेंट के समय मिलने वाली एकमुशत राशी का अस्थाई प्रावधान |OPS में रिटायरमेंट के समय 20 लाख रूपये तक एकमुश्त राशी मिलती है|
NPS मे सेवा के दौरान मृत्यु होने पर फॅमिली पेंशन का अस्थायी प्रावधान|
OPS में सेवा के दौरान मृत्यु होने पर फैमिली पेंशन का प्रावधान है|
NPS मे शेयर बाजार के आधार पर भुगतान किया जायेगा|
OPS मे सरकार द्वारा ट्रेज़री के माध्यम से भुगतान किया जाता है|
NPS मे रिटायरमेंट के समय निश्चित पेंशन की
गरंटी नही है|
OPS में रिटायरमेंट के समय निश्चित पेंशन जो अंतिम मूल वेतन के 50% की गारंटी है|
NPS में रिटायरमेंट के समय NPS फण्ड से 40% पेंशन के लिए इन्वेस्ट करना पड़ेगा|OPS में रिटायरमेंट के समय GPF फण्ड से किसी प्रकार का इन्वेस्टमेंट नही करना पड़ता है|
NPS मे रिटायरमेंट के बाद हर 6 महीने मे मिलने वाला महंगाई भत्ता लागु नही होगा|OPS पर 6 माह बाद मिलने वाला महंगाई भत्ता लागु होगा|
NPS मे GPF सुविधा उपलब्ध नही है| OPS मे GPF सुविधा उपलब्ध है|
NPS मे रिटायरमेंट के बाद मे मेडिकल फैसिलिटी का स्पष्ट प्रावधान नहीं|OPS में रिटायरमेंट के बाद मेडिकल फैसिलिटी उपलब्ध है|
NPS के लिए वेतन से निश्चित कटौती होती हैOPS मे वेतन से कोई कटौती नहीं होती है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *